यूपी में 50 हजार सिपाहियों की जल्द होगी भर्ती, आज हो सकता है ऐलान

यूपी में 50 हजार सिपाहियों की जल्द होगी भर्ती, आज हो सकता है ऐलान

50 हजार सिपाहियों की भर्ती का जिक्र सीएम योगी आदित्यनाथ कई बार अपने भाषणों में कर चुके हैं. वैसे इस भर्ती से पहले ही पुलिस और पीएसी के 41,520 पदों के लिए भर्ती की प्रक्रिया चल रही है.

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार जल्द ही प्रदेश में 50 हजार सिपाहियों की भर्ती की तैयारी कर रही है. इसका ऐलान गुरुवार को प्रदेश सरकार की तरफ से शासन के अधिकारी कर सकते हैं. माना जा रहा है कि प्रदेश के प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार, डीजीपी ओपी सिंह और भर्ती बोर्ड के चेयरमैन गिरीश प्रसाद शर्मा गुरुवार को इस संबंध में प्रेस कांफ्रेंस कर सकते हैं. 50 हजार सिपाहियों की भर्ती का जिक्र सीएम योगी आदित्यनाथ कई बार अपने भाषणों में कर चुके हैं. वैसे इस भर्ती से पहले ही पुलिस और पीएसी के 41,520 पदों के लिए भर्ती की प्रक्रिया चल रही है.

वैसे योगी सरकार के कार्यकाल पर गौर करें तो अभी तक पिछले डेढ़ साल में प्रदेश में निकली तमाम सरकारी नौ​करियों की भर्तियां विवादों के केंद्र में रही हैं. कहीं पेपर आउट हुए और सॉल्वर गैंग पकड़े गए, किसी भर्ती में पेपर बांटने में लापरवाही सामने आई तो कहीं परीक्षा परिणाम पर भी धांधली उजागर हुई. नतीजा यह हुआ कि लाखों नौजवान, जो एक अदद सरकारी नौकरी की उम्मीद लगाए बैठे थे, अब अदालतों के चक्कर काट रहे हैं या सरकारी जांचों पर टकटकी लगाए हैं.




इसी साल यूपी में पुलिस भर्ती बोर्ड के माध्यम से पुलिस और पीएसी के 41520 पदों के लिए परीक्षा आयोजित की गई थी, लेकिन 18 और 19 जून को हुई परीक्षा में गलत प्रश्नपत्र बंटवाने की खबरें आईं, इसके बाद विवाद हो गया. आखिरकार परीक्षा को स्थगित कर दिया गया. परीक्षा रद्द होने की वजह केंद्र व्यवस्थापकों की बड़ी लापरवाही मानी गई. अब यह परीक्षा इसी महीने 25 और 26 अक्टूबर को होनी है.

इसी क्रम में उत्तर प्रदेश में दरोगा भर्ती 2016 की ऑनलाइन परीक्षा में नकल माफियाओं ने सेंध लगा दी. परीक्षा के पेपर लीक होने के बाद 3307 पदों के लिए हो रही दरोगा भर्ती परीक्षा 25 जुलाई 2017 को पूरी तरह रद्द कर दी गई. मामले की जांच एसटीएफ को सौंप दी गई. इससे पहले पेपर लीक होने के बाद 25 और 26 जुलाई को होने वाली ऑनलाइन परीक्षा स्थगित कर दी गई थी. बताया गया कि 21 जुलाई को संपन्न दरोगा भर्ती की ऑनलाइन परीक्षा का पेपर सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद यह फैसला लिया गया.

पेपर लीक होने की सूचना कुछ अभ्यर्थियों ने मुख्यमंत्री और डीजीपी को ट्विटर पर दी थी. इसके बाद इसकी जानकारी यूपी पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड तक पहुंची और परीक्षा स्थगित करने का फैसला लिया गया था

View Original Source – Click Here

 

जल्द ही अधिक जानकरी सरकारी रोजगार पर दी जाएगी 



 

Share Now:

About admin

Check Also

AIIMS MBBS Admission Online Form 2019

All India Institute of Medical Science Announced New Vacancy application for AIIMS MBBS Admission Post. This …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *